कृषि कानून के खिलाफ सड़क पर उतरी कांग्रेस, दिखाई ताकत

post

केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने राजभवन घेराव किया। इसी कड़ी में देहरादून में भी कृषि कानून वापस लेने की मांग को लेकर कांग्रेस ने राजभवन कूच किया। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच नोंकझोंक भी हुई। वहीं कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया। 
कांग्रेस की इस प्रदर्शन रैली में सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे। जिससे दून में जाम के हालात पैदा हो गए। इस दौरान हाथी बड़कला चौक पर भारी पुलिस फोर्स तैनात रही।
पुलिस ने उन्हें न्यू कैंट रोड स्थित हाथीबड़कला चौकी पर बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया। रोके जाने से नाराज प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच जमकर धक्का-मुक्की हुई।इस बीच कांग्रेस प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह और केदारनाथ विधायक मनोज रावत बैरिकेडिंग पर चढ़ गए। उन्होंने केंद्र सरकार को किसान विरोधी बताते हुए जमकर नारेबाजी की।
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, कांग्रेस प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव, पूर्व विधायक रणजीत रावत, कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना समेत सैकड़ों कांग्रेसियों को हिरासत में ले लिया।
कांग्रेस प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव का कहना है कि किसानों की इस लड़ाई में कांग्रेस पार्टी कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है। उन्होंने कहा कि जब तक किसानों की समस्याओं का समाधान नहीं होता, तब तक कांग्रेस का हर कार्यकर्ता अपनी लड़ाई जारी रखेगा।
वहीं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह का कहना है कि एआईसीसी के आह्वान पर देशभर में कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रहे हैं। 
विधानसभा चुनाव की तैयारी के बीच कांग्रेस इस प्रदर्शन के जरिये अपनी ताकत का अहसास कराने की भी कोशिश कर रही है। 

ये भी पढ़ें

Leave a Comment